Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

सैनिकों ने गौ माता के लिए जनपद में प्रथम पहल शुरू कि यातायात जागरूकता अभियान चलाया

सोनभद्र,02 अक्टूबर 2022 (यूटीएन)। नवाबगंज में सड़क पर बैठे गौवंश यातायात गौ माता के संबंध में जागरूकता अभियान चलाया गया 1तारीख को दिन शनिवार को अंडर ऑफिसर अंकित शुक्ला के नेतृत्व में विभिन्न जगह पर अभियान चलाया गया जिससे रोड पर बैठी गौ माता को वाहन चालकों से अपील की रोड पर बैठी गौ माता बेसहारा पशुओं को सड़क से पकड़कर गौशाला तक पहुंचाएं ताकि रोड पर जो घूम रहे बेसहारा गौ माता सुरक्षित रह सकें साथ ही गौशाला संचालक से गाय को अपने यहां रखने की अपील की ताकि गौमाता स्वस्थ रहें साथ ही खेत संचालकों से भी अपील की बेसहारा पशुओं को गौशाला तक पहुंचाने का कार्य करें साथ ही मवेशी भुखमरी या फिर कूड़े में भोजन की तलाश कर रहे हैं खाने के साथ ही पॉलिथीन भी जाती है उसकी वजह से या तो वह बीमार हो जाते हैं.

 

या तो उनकी मौत हो जाती है. अंकित शुक्ला ने कहा कि तहसील व जनपद में फिर धीरे धीरे पूरे प्रदेश में पूरी जिम्मेदारी के साथ संकल्प लेंगे कार्य करेंगे हम सब लोग किसी चीज को स्वार्थ के लिए नहीं करते सेवा करने का उद्देश्य करते हैं जो अभी तक सालों में नहीं हुआ वह महीनों में कराने की संकल्प लेता हूँ अंकित शुक्ला ने बताया कि गायों की सेवा करने में सबसे बड़ा धर्म हमारे वेद शास्त्रों में बताया गया है हिंदू धर्म में गाय को माता माना जाता है पुराणों में धर्म के भी गौ रूप में दर्शाया गया है गाय में 33 करोड़ देवी देवताओं का निवास स्थान होता है भगवान श्रीकृष्ण गाय की सेवा अपने हाथों से करते थे और उनका निवास भी गोलोक बताया गया है इतना ही नहीं गाय के कामधेनु रूप में सभी इच्छाओं को पूरा करने वाला भी कहा जाता है हिंदू धर्म में गाय के इस महत्व के पीछे कई कारण हैं.

 

जिनका धार्मिक और वैज्ञानिक महत्व भी है गो पूजा से मनोवांछित फल की उपलब्धि होती है घर की खुशहाली के लिए घर में गाय का होना शुभ माना जाता है कहा जाता है कि विद्यार्थियों को अध्ययन के साथ ही गाय की सेवा करनी चाहिए उनसे उनका मानसिक विकास तेजी से होता है संतान और धन की उपलब्धि के लिए भी गाय को चारा खिलाना और उसकी सेवा करना बेहतर परिणाम दायक माना जाता है कहा है कि भारतीय संस्कृत में गाय को मां का दर्जा दिया गया है गाय की रक्षा करना हम सब की नैतिक जिम्मेदारी है बेसहारा पशु अक्सर सड़क पर आते हैं जाते हैं इससे दुर्घटना होने की आशंका रहती और मार्ग की मार्ग भी बाधित होता है। अभियान चलाने का यही मुख्य उद्देश्य है. इस दौरान मुख्य रूप से मनोज शुक्ला अश्वनी मोहित आलोक नितिन सत्यम सत्येंद्र कुमार अनीश राम जी आरती शिवानी खुशी मोना बेबी गुड्डी मौजूद.

विशेष संवाददाता द्वारा.

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]