Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

बागेश्वर मंदिर बागपत में चल रहे रामायण पाठ का पूर्णिमा को होगा समापन

बागपत, 08 अगस्त 2022 (यूटीएन)। पुराना कस्बा बागपत के अति प्राचीन बागेश्वर महादेव के मंदिर में 14 जुलाई श्रावण मास के प्रथम दिन से श्री रामायण जी का पाठ चल रहा है जिसमें भक्तिमय भजनों के माध्यम से रामायण जी के पाठ को सुनने और सुनाने से होने वाले फायदों के बारे में बताया जा रहा है। रामायण का पाठ करने वालों में से एक मास्टर कर्मवीर सिंह ने बताया कि रामायण में जीवन से जुड़े सभी प्रश्नों के उत्तर समाहित है। बताया कि श्रावण मास में रामायण का एक महीने का पाठ रखा गया है और आज पाठ का 25 वां दिन है। प्रतिदिन दोपहर को 1 बजे से शाम को 4 बजे तक रामायण का पाठ होता है। श्रावण शुक्ल पूर्णिमा 12 अगस्त को रामायण जी का यह पाठ पूर्ण होगा।

बताया कि हिन्दू कलेंड़र के अनुसार श्रावण मास को वर्ष के सबसे पवित्र महीनों में से एक माना जाता है। धार्मिक कार्यक्रमों के संचालन के लिए यह सबसे अच्छा समय माना जाता है। श्रावण मास के अधिपति देवता भगवान शिव है और इस महीने में भगवान राम और भगवान नारायण का गुणगान करने से भगवान शिव, ब्रहमा सहित समस्त देवी-देवता प्रसन्न होते है। रामायण का श्रावण के पवित्र-पावन महीने में पाठ करने से भगवान शिव और भगवान विष्णु  की कृपा भक्तों पर बनी रहती है और जन्म-मरण के भवबंधनों से मुक्ति मिलती है। 25 वें दिन रामायण पाठ में मंदिर के पंडित अनिरूद्ध मिश्रा, जीत सिंह चौहान, भंवर सिंह ब्रहमचारी, मास्टर कमलेश चौहान, अतरकली चौहान आदि श्रद्धालुगण उपस्थित थे।

बागपत-रिपोटर, (विवेक जैन)।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]