Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

उप मण्डल स्तरीय टास्क फोर्स कमेटियों को खनन स्थलों का निरीक्षण कर हर 15 दिन में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के दिये निर्देश

पंचकूला, 28 जुलाई 2022 (यू.टी.एन.)। उपायुक्त  महावीर कौशिक ने जिला में अवैध खनन की गतिविधियों पर पूणतः अंकुश लगाने के लिए पंचकूला और कालका की उप मण्डल स्तरीय टास्क फोर्स कमेटियों को खनन स्थलों का निरीक्षण कर हर 15 दिन में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। इसके अलावा उन्होंने निर्देश दिये कि पंचकूला में स्थित सभी स्क्रीनिंग प्लांटों का स्टाॅक वैरीफिकेशन किया जाए और यदि किसी भी स्क्रीनिंग प्लांट के पास अवैध कच्चे माल की खरीद पाई जाती है तो उसे तुरंत प्रभाव से सील किया जाए। महावीर कौशिक आज लघु सचिवालय के सभागार में खनन को लेकर गठित जिला स्तरीय टास्क फोर्स कमेटी की आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। 
उपायुक्त ने कहा कि नैशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के निर्देशानुसार जिला में 1 जुलाई से 15 सितंबर तक खनन गतिविधियों पर प्रतिबंध है। उन्होंने पंचकूला और कालका की उप मण्डल स्तरीय टास्क फोर्स कमेटियों को निर्देश दिये कि वे जिला में अपने-अपने क्षेत्रों में नियमित तौर पर निरीक्षण करें और यदि कोई भी अवैध खनन का मामला संज्ञान में आता है तो उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। उपायुक्त ने हाल ही में उपमण्डल स्तरीय टास्क फोर्स कमेटियों का गठन किया है जिसमें पंचकूला व कालका की एसडीएम को अपने-अपने उपमण्डल की कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है जबकि जिला खनन अधिकारी को कमेटियों के सदस्य सचिव बनाया गया है। 
उपायुक्त ने निर्देश दिये कि पंचकूला और कालका के एसडीएम और संबंधित एसीपी, टास्क फोर्स कमेटियों के सदस्यों के साथ समन्वय स्थापित करते हुए अपने-अपने क्षेत्रों में औचक निरीक्षण कर हर 15 दिन में रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान संबंधित एसएचओ और चैंकी इंचार्ज टीम के साथ रहेंगे और आवश्यकता पड़ने पर प्रयाप्त पुलिस बल उपलब्ध करवाएंगे। महावीर कौशिक ने कहा कि कालका उपमण्डल में बुर्ज कोटियां, जबरोट और जल्लाह तथा रायपुररानी में रामपुर, शाहपुर, काजमपुर, खेड़ी बडोना, डंडारू और मौली में विशेष अभियान चला कर नियमित चैकिंग की जाए। उन्होंने जिला खनन अधिकारी को निर्देश दिये कि वे आबकारी एवं कराधान अधिकारी (बिक्री कर) के साथ जिला के सभी स्क्रीनिंग प्लांटों में कच्चे माल की स्टाॅक वैरीफिकेशन करें और यदि किसी भी स्क्रीनिंग प्लांट के पास अवैध कच्चे माल की खरीद पाई जाती है तो उसकी रिपोर्ट तुरंत हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी को दी जाए ताकि इन स्क्रीनिंग प्लांटों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सके।
 
इस अवसर पर एसडीएम ऋचा राठी, एसीपी ममता सौदा, एसीपी विजय नेहरा, एसीपी कृष्ण लाल, हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी विरेन्द्र पुनिया, जिला खनन अधिकारी ओम दत्त शर्मा, तहसीलदार रायपुररानी विरेन्द्र, नायब तहसीलदार काकला जितेन्द्र गिल, एईटीओ यतिन्द्र यादव, बीडीपीओ रायपुररानी परमनंदन, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के एसडीई राजबीर सिंह भी उपस्थित थे।
हरियाणा-स्टेट ब्यूरो, (सचिन बराड़)।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]