Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

अल्पसंख्यक मंत्रालय के मंत्री पद पर जैन समाज चाहता है वीरेंद्र हेगडे की हो ताजपोशी

बागपत, 09 जुलाई 2022 (यू.टी.एन.)। अल्पसंख्यक मंत्रालय के गठन से अब तक किसी भी जैन समाज के सांसद को मंत्री न बनाए जाने से अपने को सत्ता के करीब होते हुए भी राजनीतिक दलों द्वारा दूर रखे जाने से आहत जैन समाज ने इस बार जोरदार मुहिम शुरू करते हुए अल्पसंख्यक मंत्रालय के मंत्री पद पर जैन समाज के सर्वमान्य नेता वीरेंद्र हेगड़े का नाम आगे बढाया है | जैन एकता मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष सतीश जैन ने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय का मंत्री पद जैन समाज को अभी तक नहीं मिला है।
बताया कि अल्पसंख्यक मंत्रालय , सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय से अलग कर 29 जनवरी 2006 को बनाया गया था किंतु 17 साल के कार्यकाल में इस मंत्रालय के मंत्री सिर्फ मुस्लिम धर्म के  सांसद को ही बनाया जाता रहा है | आज तक एक बार भी अल्पसंख्यक मंत्रालय जैन धर्म के संसद को मिला नहीं दिया गया, जिससे जैन समाज में रोष है |
*अपने गठन के 17 सालों में जैन समाज के विकास पर खर्च नहीं हुई एक फूटी कोडी भी*
जैन एकता मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने देशभर के जैन समाज के लिए अल्पसंख्यक मंत्री पद की मांग को लेकर आवाज उठाने का आह्वान किया है , बताया कि अल्पसंख्यक मंत्रालय, भारत सरकार का बजट Rs.5200 करोड़ का है | पिछले 17 वर्षों में अल्पसंख्यक मंत्रालय के माध्यम से लगभग ₹50000 करोड़ खर्च हुए हैं, किंतु जैन समाज के गरीब वर्ग की हमेशा अनदेखी हुई है | कहा कि इतनी बड़ी धनराशि में जैन समाज के विकास और संरक्षण के लिए कुछ नहीं मिला है |
बताया कि इन 17 वर्षों के दौरान मुस्लिम धर्म के धर्म स्थलों के संरक्षण के लिए ,यानी वक़्फ़ बोर्ड प्रॉपर्टी के संरक्षण और विकास के लिए सैकड़ों करोड रूपए मिले हैं, जबकि जैन धर्म के प्राचीन मंदिरो के संरक्षण और विकास के लिए एक पाई भी नहीं मिली है |
 *कब जागेगा जैन समाज*
जैन एकता मंच की बैठक में इस दौरान जैनधर्म के हिस्से में आने वाले कम से कम ₹5000 करोड़ पिछले 17 सालो में डूब गए हैं | कहा गया कि, दक्षिण में तमिलनाडु , कर्नाटक राज्य में तो जैन समाज की गरीबी 50% से भी ज्यादा है, उनके लिए कोई योजना नहींं बनी ,जबकि पिछले 17 सालो में मुस्लिम धर्म मेंं गरीबी और बेरोजगारी दोनों ही कम हुए हैं | बैठक में वक्ताओं ने आरोप लगाया कि, जितने भी मुस्लिम, आज तक मंत्री बने हैं, उन्होने सिर्फ अपने धर्म के विकास और संरक्षण पर ध्यान दिया है और जैन धर्म को जानबूझ कर कमजोर किया गया है |
*वीरेंद्र हेगड़े को सौंपा जाए अल्पसंख्यक मंत्रालय*
अल्पसंख्यक मंत्रालय के मंत्री पद वीरेंद्र हेग्गडे जैसे व्यक्ति को मंत्रिमंडल में स्थान की मांग के साथ ही अल्पसंख्यक मंत्रालय दिए जाने के लिए नगर गाँव और राज्य स्तर पर काम कर रहे जैन संगठनों को एकजुट होकर इस मुहिम को साकार करने का आह्वान किया गया है| कहा कि, अगर यह मंत्री पद पर वीरेंद्र हेग्गडे को मिलता है तो, जैन धर्म का विकास और संरक्षण वे अच्छी तरह से कर पाएंगे।
जैनियों अब तो जागो ,अपना स्वाभिमान जगाओ के संदेश के साथ सम्पन्न हुई बैठक की जानकारी देते हुए जैन एकता मंच के प्रदेश अध्यक्ष जनेश्वर दयाल जैन, बागपत जनपद के जिलाध्यक्ष अंकुश जैन, अतिशय क्षेत्र तीर्थ के त्रिलोक जैन आदि ने बताया कि , राष्ट्रीय अध्यक्ष सतीश जैन राष्ट्रीय महामंत्री प्रमोद जैन, कोषाध्यक्ष मनीष जैन सहित समस्त कार्यकारिणी और सदस्यों ने सर्वसम्मति से अपना संदेश और प्रस्ताव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक पहुंचाने के लिए जोरदार मुहिम चलाए जाने का आह्वान किया है |
बागपत-रिपोटर, (विवेक जैन)।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]