Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

सात मिनट में हेलीकॉप्टर से गिरिराज जी की परिक्रमा, 10 जुलाई से शुरू हो सकती है हवाई सेवा

मथुरा, 09 जुलाई 2022 (यू.टी.एन.)। मथुरा के गोवर्धन में अब सात मिनट में गिरिराज जी की परिक्रमा कर सकेंगे। इसके लिए गोवर्धन के गांव पैंठा में हेलीपोर्ट का निर्माण कराया गया है। 10 जुलाई से हेलीपोर्ट से हेलीकॉप्टर सेवा शुरू करने की तैयारी पर्यटन विभाग कर रहा है। इसके संचालन के लिए लखनऊ की एक कंपनी के अधिकारियों ने हेलीपोर्ट का निरीक्षण किया। अगर सब कुछ ठीक रहा तो श्रद्धालु मुड़िया मेले में एक बार फिर हेलीकॉप्टर से परिक्रमा कर सकेंगे। मथुरा के गोवर्धन में अब सात मिनट में गिरिराज जी की परिक्रमा कर सकेंगे।
इसके लिए गोवर्धन के गांव पैंठा में हेलीपोर्ट का निर्माण कराया गया है। 10 जुलाई से हेलीपोर्ट से हेलीकॉप्टर सेवा शुरू करने की तैयारी पर्यटन विभाग कर रहा है। इसके संचालन के लिए लखनऊ की एक कंपनी के अधिकारियों ने हेलीपोर्ट का निरीक्षण किया। अगर सब कुछ ठीक रहा तो श्रद्धालु मुड़िया मेले में एक बार फिर हेलीकॉप्टर से परिक्रमा कर सकेंगे। ब्रज तीर्थ विकास परिषद के उपाध्यक्ष शैलजाकांत मिश्र ने गोवर्धन गिरिराज पर्वत को विश्वपटल पर विख्यात करने के लिए जिला पर्यटन अधिकारी डीके शर्मा के सहयोग से गोवर्धन में हेलीपोर्ट निर्माण की योजना को अमली जामा पहनाया।
गिरिराज पर्वत के समीप पैंठा गांव में 494.65 लाख रुपये से हेलीपोर्ट निर्माण के कार्य लगभग पूरे हो चुके हैं। हेलीपोर्ट से हेलीकॉप्टर की उड़ान के लिए टेंडर भी निकल चुके हैं। अब मुड़िया पूर्णिमा मेले से इसकी शुरुआत होने की संभावना है। इसके लिए बुधवार को लखनऊ की एक कंपनी के अधिकारियों ने हेलीपोर्ट का निरीक्षण किया। पर्यटन निगम से कंपनी की परिक्रमा के लिए प्रति यात्री किराए पर चर्चा होगी। गिरिराज परिक्रमा के लिए 2018 में हेलीकॉप्टर की व्यवस्था की गई थी। वर्ष 2019 में भी यह प्रक्रिया जारी रही। तब इसके लिए स्थानीय डीएवी इंटर कॉलेज में टेंट व अस्थाई हेलीपोर्ट बनाया गया था।
इसके बाद कोरोना काल में व्यवस्थाएं ठप रहीं। इस बार हेलीकॉप्टर की इस अस्थाई व्यवस्था का स्थाई करने के लिए पैंठा में हेलीपोर्ट का निर्माण करवा दिया गया है। यदि सब कुछ ठीक रहा तो गिरिराज परिक्रमा के साथ-साथ मथुरा, वृंदावन और बरसाना आदि के मंदिरों के दर्शन के लिए यहां से हमेशा हेलीकॉप्टर मिलेगा। इससे लोगों को समय की बचत होगी।
जिला पर्यटन अधिकारी डीके शर्मा ने बताया कि लखनऊ पर्यटन निगम को हेलीपोर्ट संचालक के लिए रिपोर्ट भेज दी गई है। मुड़िया मेला से पहले 10 जुलाई से उड़न खटोला सेवा संचालित हो सकती है। इसके संचालन के लिए कंपनी के अधिकारियों ने पैंठा में हेलीपोर्ट का निरीक्षण किया है।
मथुरा-रिपोटर, (अबेद अली)।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]