Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

आप दोनों ने कई सारे सुपरहिट गानों को लोकप्रिय रूप में अपने वर्जन में तैयार किया है

मुंबई, 06 जुलाई 2022 (यूटीएन)। जुग जुग जिवे लल्लनवा एक भक्ति गीत है, जिसमें युकुलेले को इंस्ट्रूमेंट के रूप में चुना गया है। एक पारंपरिक गाने को मॉर्डन ट्विस्ट के साथ तैयार करने के लिये कौन-सी चीज आपको प्रेरित करती है। उत्तर – अंकिता और मैंने हमेशा ही अपनी संस्कृति को बढ़ावा देने पर विश्वास किया है और हमेशा ही भारतीय शास्त्रीय संगीत और भारतीय लोकसंगीत को प्रचारित करने के लिये काफी मेहनत की है। जुग जुग जिवे लल्लनवा, लोकसंगीत को प्रचारित करने की दिशा में एक कदम था। हम ऐसी पीढ़ी से आते हैं जोकि भारतीय लोकसंगीत या भारतीय शास्त्रीय संगीत को नहीं सुनत, लोग अक्सर वेस्‍टर्न म्‍यूज़िक सुनते हैं जोकि अच्छे हैं लेकिन कुछ ऐसा सुनना,जिसमें हमारी संस्कृति की झलक मिलती है, वह भी बहुत महत्वपूर्ण है।
जुग जुग जिवे लल्लनवा, हमारी पीढ़ी के लोगों को लोकगीत सुनवाने और उस खूबसूरत संगीत को सरहाने का हमारा प्रयास है, जोकि हमारी ही मिट्टी से जुड़ा है। ये एक अवधी लोकगीत है। यह मालिनी अवस्थी जी को भी एक भेंट है क्योंकि हमने उनके एक संस्करण से गीत सीखा है और वह भी इसकी तरह ही एक लेजेंड हैं। इसलिये, हम उनके बहुत बड़े प्रशंसक हैं और यह उनके लिये भी एक छोटी सी भेंट है। इस पारंपरिक गीत को एक आधुनिक ट्विस्ट देने की वजह थी कि हमने हमेशा संगीत वाद्ययंत्र, युकुलेले के साथ संगीत दिया है क्योंकि इसमें एक मधुर, तेज ध्वनि है। नंदी सिस्टर्स के साथ लोग जिस वजह से जुड़े हैं उसकी वजह से हम इस बेहद खास प्रोजेक्ट जुग जुग जिवे लल्लनवा में शामिल होना चाहते थे।
हमारा मानना है कि यह पहली बार है जब लोग वास्तव में एक अवधी लोक गीत सुनेंगे जो एक युकुलेले पर भगवान श्री राम को समर्पित है। प्रश्न. पहले गाने से लेकर अब तक के अपने सफर के बारे में आप क्या कहना चाहेंगी, जबकि आपके सिंगल्स भी हलचल मचा रहे हैं उत्तर – बचपन में अंकिता और मैं हमेशा एक साथ गाया करते थे। मैं पहले से ही जानती थी कि मुझे एक म्यूजिशियन बनना है, लेकिन अंकिता के लिये यह हैरानी वाली बात थी, क्योंकि उसने कभी नहीं सोचा था कि वह संगीत को एक कॅरियर के रूप में चुनेगी। इसलिये, ऐसा हाल में हुआ है कि अंकिता ने मेरे साथ गाना शुरू किया है और नंदी सिस्टर्स अस्तित्व में आईं। हमारी शुरूआत हमारे पहले वायरल वीडियो के साथ हुई।
जिसमें कपों का इस्तेमाल, हम्मा गाने के लिये किया था। इसके वायरल होने के बाद, हमें कुछ बेहद ही जाने-माने गायकों और संगीतकारों जैसे, लेज्‍ली लुइस सर, सोनू निगम सर, अदनान सामी सर, शंकर महादेवन सर, अनुष्का शंकर मैम, एहसान सर से बहुत तारीफें मिलने लगीं। लॉकडाउन के दौरान हमने ‘बालकनी कॉन्सर्ट’ के रूप में एक सीरीज शुरू की, जहां हमने युकुलेले का इस्तेमाल कर भारत के कई हिस्सों के लोकगीत और फिल्मी गीत गाना शुरू कर दिया। लॉकडाउन में यह हमारी तरफ से लोगों को पॉजिटिविटी देने का एक प्रयास था, जो काफी अच्छा रहा। प्रश्न. भक्ति गीत गाना और शेमारू भक्ति के साथ जुड़ने का अनुभव कैसा था।
उत्तर – वह अनुभव तो कमाल का था, क्योंकि हमने अपना सफर सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट करने से शुरू किया था, जहां हमने एक ही टेक में गाने परफॉर्म किए थे। हम हमेशा से चाहते थे कि हमारे म्यूज़िक वीडियो की शूटिंग प्रोफेशनल तरीके से हो और शेमारू भक्ति ने यह प्रोजेक्ट देकर हमारे सपने को पूरा कर दिया। शेमारू भक्ति ने हमारे सपनों को उड़ान दी। उन्होंने हमारे दृष्टिकोण को समझकर उसमें हमारा सहयोग किया और हमें यह गाना करने की आज़ादी दी। यह सब शेमारू भक्ति से मिले सहयोग की वजह से संभव हो पाया।
प्रश्न.  आप कौन से इंस्ट्रूमेंट्स बजाती हैं और आप दोनों एक साथ कब गाना शुरू करेंगी। उत्तर – हमने कई सारे इंस्ट्रूमेंट बजाए हैं जैसे कीबोर्ड और तबला लेकिन इस समय हमारी पहचान युकुलेले है। हमने युकुलेले उस समय बजाना शुरू किया था, जब इसके बारे में बहुत लोग नहीं जानते थे। हमारे बालकनी कॉन्सर्ट के वायरल होने के बाद, लोगों ने अपने गानों में युकुलेले को शामिल करना शुरू कर दिया। हमारा सफर बहुत ही छोटी उम्र से शुरू हुआ। मैं हमेशा से ही संगीत की दुनिया में आना चाहती थी और एक म्यूजिशियन बनना चाहती थी।
इसलिये, चार साल की उम्र में मैंने ऑफिशियली ट्रेनिंग लेना शुरू किया और कोलकाता में आधे लोग उस्ताद राशिद खान के पास भारतीय शास्त्रीय संगीत की दीक्षा ले रहे हैं। मैं आईटीसी संगीत रिसर्च एकेडमी की स्कॉलर थी। अंकिता और मैं दोनों ही चेन्नई स्थित एआर रहमान सर के म्यूज़िक स्कूल, केएम म्यूज़िक कंर्जेवेटरी के स्टूडेंट्स थे। हाल में मैंने संगीत में अपना मास्टर्स किया है और वहीं दूसरी तरफ अंकिता सरप्राइज पैकेज साबित हुई, क्योंकि उसने कभी भी म्यूज़िक को कॅरियर के रूप में चुनने के बारे में सोचा नहीं था।
मुंबई-रिपोटर, (हितेश जैन)।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]