Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

विवादों की भेंट चढ़ी नगर पंचायत की बोर्ड बैठक

हरदोई, 20 जून 2022 (यू.टी.एन.)। नगर के विकास कार्यों पर चर्चा व प्रस्तावों/कार्यों के क्रियान्वयन को लेकर शनिवार को आहूत बोर्ड बैठक अधिशासी अधिकारी की तानाशाही व भ्रष्ट कार्यशैली के चलते एक बार फिर विवादों की भेंट चढ़ गई। लंबे अरसे से बाधित रहीं बोर्ड बैठकों के लिए निर्वाचित सदस्यों ने बहुमत से अधिशासी अधिकारी पर शासन के मंशानुरूप काम ना करने पर नगर पंचायत अध्यक्षा के समक्ष अपनी आपत्तियां दर्ज कराईं, साथ ही नगर पंचायत के लिपिक पर कई बिन्दुओं पर आरोप लगाते हुए अध्यक्षा को लिपिक के निलंबन का प्रस्ताव सौंपते हुए कार्रवाई की मांग की। वहीं नगर अध्यक्षा ने अधिशासी अधिकारी पर अभद्रता व अमर्यादित आचरण का आरोप लगाते हुए स्थानीय कोतवाली पर तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।
बताते चलें कि शनिवार को आहूत नगर पंचायत कछौना पतसेनी की बोर्ड बैठक में मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद बालामऊ विधायक रामलाल वर्मा व हरदोई से विधान परिषद सदस्य अशोक अग्रवाल व नगर पंचायत अध्यक्षा मीनू की उपस्थिति में सदन की कार्यवाही शुरू की गई। लिपिक जय बहादुर सिंह द्वारा बैठक में कराए गए कार्यों का विवरण व व्यय बजट प्रस्तुत करने पर निर्वाचित/नामित सदस्यों ने वित्तीय अनियमितता का आरोप लगाते हुए आपत्ति दर्ज कराई। इमलीपुर वार्ड से सभासद सुषमा सिंह ने नगर पंचायत प्रशासन द्वारा जारी किए जाने वाले प्रमाणपत्रों में जिम्मेदारों द्वारा घोर शिथिलता बरतने का आरोप लगाते हुए खराब पड़े शव वाहन तथा दर्जनों की संख्या में खराब पड़े इंडिया मार्का हैंडपंपों को सही कराए जाने का मुद्दा उठाया।
रेलवेगंज पूर्वी वार्ड से सभासद अरविंद कुमार ने नगर में लगाई गई स्ट्रीट लाइटों की खरीद/लगाने में हुए गोलमाल पर आपत्ति दर्ज कराई।नामित सभासद ब्रह्म कुमार सिंह ने ईओ पर मनमाने तरीके से प्रस्तावों को मंजूरी देने/प्रस्तावों के संबंध में जानकारी ना देने का आरोप लगाते हुए पूर्व प्रस्तावों को निरस्त करने की बात कही जिसपर सभी सदस्यों ने समर्थन व्यक्त किया। काशीनगर वार्ड से सभासद रंजीत राव गौतम ने नगर के मुख्य चौराहे पर सामुदायिक शौचालय बनवाए जाने का प्रस्ताव रखा। कछौना बाजार पूर्वी से सभासद मीना ने नगर की ध्वस्त प्रकाश व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए सही कराए जाने की मांग रखी।
ठाकुरगंज वार्ड से सभासद अभय सिंह ‘टिंकू’ ने नगर पंचायत की बेशकीमती सरकारी जमीनों पर काबिज भूमाफियाओं को नगर पंचायत प्रशासन द्वारा संरक्षण दिए जाने व उक्त संदर्भ में न्यायालय में लंबित वादों पर अधिशासी अधिकारी द्वारा प्रभावी ढंग से पैरवी ना करने/भूमाफियाओं से सुलह-समझौता करने का मुद्दा उठाया। नामित सभासद अनीता गुप्ता सहित अन्य सभासदों जमील, सुमन देवी, गोधन, सोफिया आदि ने अधिशासी अधिकारी व लिपिक द्वारा फोन ना उठाने, जल निकासी हेतु बनाए गए नालों में मानकविहीन/घटिया सामग्री प्रयोग होने, कस्बे में छुट्टा जानवरों के हमले से हो रहीं घटनाओं, साफसफाई में घोर लापरवाही, पिंक शौचालय सहित सामुदायिक शौचालयों को अधिकांश बंद रहने।
नगर के मुख्य मार्ग पर फैले भारी अतिक्रमण, टूटे पड़े वेलकम बोर्ड, फर्जी पब्लिसिटी सहित प्रधानमंत्री आवास योजना(शहरी) व प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना(स्ट्रीट वेंडर्स को वित्तीय सहायता उपलब्ध कराने हेतु) के क्रियान्वयन में नगर पंचायत प्रशासन द्वारा घोर शिथिलता बरतने व कमीशनबाजी का आरोप लगाकर शासन के मंशानुरूप आम जनमानस को लाभ ना मिलने पर आपत्ति दर्ज कराई। बैठक को उपस्थित मुख्य अतिथि विधायक रामपाल वर्मा व एमएलसी अशोक अग्रवाल ने भी संबोधित किया। विधायक व एमएलसी द्वारा जनपद मुख्यालय पर पूर्व प्रायोजित एक बैठक में उपस्थिति दर्ज कराने के चलते दोनों जनप्रतिनिधियों के बैठक से चले जाने के बाद बैठक में सभासदों द्वारा विभिन्न बिन्दुओं पर सवाल-जवाब के चलते अधिशासी अधिकारी रेणुका यादव व लिपिक जय बहादुर सिंह अपने तानाशाही/अभद्रतापूर्ण रवैए पर उतर आए जिस पर उपस्थित सभी सभासदों ने आपत्ति दर्ज की।
सवालों पर जवाब देने के बजाय अधिशासी अधिकारी व लिपिक अपने अन्य कर्मचारियों व अभिलेखों सहित बिना नगर अध्यक्षा की अनुमति के बीच में ही बैठक छोड़कर चले गए जिसके चलते बैठक स्थगित हो गई। वहीं बैठक में मौजूद सभासदों ने अधिशासी अधिकारी के इस शर्मनाक कृत्य पर अधिशासी अधिकारी की निन्दा करते हुए बहुमत से लिपिक जय बहादुर सिंह पर गैर अनुशासनात्मक/अनैतिक आचरण व सदस्यों से अभद्र व्यवहार करने, नगर पंचायत की बेशकीमती सरकारी जमीनों पर भूमाफियाओं से मिलकर अवैध कब्जा कराने, जमीनों पर दुकानें बनाकर उन्हें गृहकर रजिस्टर में अनाधिकृत रूप से दर्ज करने, नगर पंचायत प्रशासन की गोपनीयता भंग करने व महत्वपूर्ण सूचनाओं को लीक करने का गंभीर आरोप लगाते हुए लिपिक को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का प्रस्ताव अध्यक्षा को सौंपकर कार्यवाई की मांग की।
बोर्ड बैठक में अधिशासी अधिकारी रेणुका यादव व लिपिक जय बहादुर सिंह द्वारा अभद्रतापूर्ण व्यवहार/जातिसूचक शब्दों के प्रयोग व अनुशासनहीनता से आहत होकर नगर पंचायत अध्यक्षा मीनू ने कछौना कोतवाली में तहरीर देकर विधिक कार्रवाई की मांग की है। स्थानीय प्रभारी निरीक्षक संदीप सिंह ने बताया कि प्रकरण संज्ञान में आया है, मामले की जांच कराकर विधि सम्मत कार्यवाई की जाएगी।वहीं इस संबंध में जब अधिशासी अधिकारी से उनका पक्ष जानने के लिए संपर्क किया गया तो उन्होंने इस मामले पर जिक्र करते ही फोन काट दिया।
हरदोई-रिपोर्ट, (प्रशांत सिंह) 

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]