Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्यशाला का आयोजन

चूरू,16 जून 2022 (यू.टी.एन.)।  राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जयपुर एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण (जिला एवं सेशन न्यायाधीश) के अध्यक्ष बलजीत सिंह, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव प्रमोद बंसल निर्देशन पर गुरुवार को विषय ‘पर्यावरण कानून के प्रावधान और सभी हितधारकों के लिए प्रदूषण और पर्यावरणीय गिरावट के हानिकारक प्रभाव’ पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का उद्घाटन व शुभारंभ अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश अनिता टेलर के द्वारा किया गया। इस कार्यशाला में पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड, नागौर के तेजराज गौड़ व हेमंत कुमार कनिष्ठ पर्यावरण अभियंता ने पावर प्रजेंटेशन के माध्यम से पर्यावरण प्रदूषण के नियंत्रण बाबत प्रभावी एवं ठोस जानकारी दी तथा पर्यावरण प्रदूषण फैलाने वाले विभिन्न आयामों के विकल्प सहज, सुलभ और सुंदर क्या-क्या हो सकते हैं।

 

यह जानकारी भी दी कि 01 जुलाई, 2022 से सिंगल यूज प्लास्टिक के उत्पादों पर पूर्णरूप से प्रतिबंध लगने जा रहा है तथा यह भी बताया कि सिंगल यूज प्लास्टिक के उत्पादों का निर्माण करना, रखना, बेचना व काम में लेना 01 जुलाई, 2022 से प्रतिबंधित हो रहे हैं तथा उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी। डॉ. एस. के. सैनी प्राचार्य, विधि महाविद्यालय, चूरू ने पर्यावरण संबंधी कानूनों की विस्तृत जानकारी दी तथा पर्यावरण से संबंधित सर्वोच्च न्यायालय द्वारा निर्णीत विभिन्न मुकदमों की विषयवस्तु पर प्रकाश डाला।

 

इस कार्यशाला में जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, शिक्षा विभाग, सामाजिक एवं न्याय अधिकारिता विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, बाल विकास परियोजना अधिकारी, वन विभाग, बाल कल्याण समिति, पैनल अधिवक्तागण, एनजीओ, सखी केंद्र, इन्दिरा महिला शक्ति केंद्र, पुरस्कृत शिक्षक संघ, पैरा लीगल वोलन्टीयर्स के द्वारा भाग लिया गया जिनमें राकेश दुलार, ए.सी.एफ., ओमप्रकाश फगेड़िया, जिला साक्षरता एवं सतत् शिक्षा अधिकारी, सतपाल बिश्नोई, पुलिस निरीक्षक, मोहर सिंह, नायब तहसीलदार, ओमप्रकाश तंवर व सूर्यप्रकाश त्रिवेदी, सेवानिवृत्त शिक्षा अधिकारी, कमला देवी, अध्यक्ष, शर्मिला पूनियां व हरफूल सिंह पचार, सदस्य, सीडब्ल्यूसी, संतलाल सारण, सांवरमल स्वामी, राजेंद्र राजपुरोहित, सुमेर सिंह, मंगलसिंह पैनल अधिवक्तागण मौजूद रहे। इस कार्यशाला का संचालन वरिष्ठ अधिवक्ता बजरंगलाल शर्मा द्वारा किया जाकर एक कहानी के मार्फत यह बताया गया कि सिर्फ सुनने से कुछ नहीं होता, सुनी हुई बात को आत्मसात करने से सब कुछ संभव है। मनदीप कौर, न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वारा कार्यशाला में उपस्थित सभी विभाग के प्रतिनिधियों का धन्यवाद ज्ञापित किया गया।

राजस्थान-रिपोर्टर,(सुरेश सैनी)।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]