Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

डेंगू को सावधानी, जागरूकता व जनसहयोग से खत्म किया जा सकता है, सन्दीप कुमार स्वास्थ्य निरीक्षक

कालका,15 मई 2022 (यू.टी.एन.)। जैसे जैसे गर्मियां व मानसून का मौसम आता है और गमलों, कूलर एसी,मानी प्लांट, फ्रिज के पीछे वाली पानी की ट्रे और घरों के आस पास गढ़ों में पानी का जमवाड़ा शुरु होने से डेंगू का प्रकोप बढ़ता जाता है। स्वास्थ्य विभाग भी ऐसे में  अपनी कमर कस लेता है लोगों को इस बीमारी से बचाव के लिए।इसी विषय के चलते  16 मई को विश्व डेंगू दिवस को मानने के लिए उप मण्डल हस्पताल कालका के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी के दिशा निर्देश पर स्वास्थ्य निरीक्षक सन्दीप कुमार के नेतृत्व में पापलोहा के वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के छात्रों को डेंगू से बचने के लिए जागरूकता और सावधानी तथा छोटे छोटे उपायों के बारे विस्तार से बताया । स्वास्थ्य निरीक्षक सन्दीप कुमार ने कहा कि डेंगू काफी गंभीर बीमारियों में से एक है।
हर साल इस बीमारी से लाखों-करोड़ों लोग ग्रस्त रहते हैं। वहीं कुछ लोगों के लिए ये समस्या जानलेवा भी साबित हो रही है। खासतौर पर बारिश के शुरुआती दौर में डेंगू के मामले सबसे ज्यादा देखे जाते हैं। ऐसे में लोगों को इस बीमारी को लेकर जागरूक होना चाहिए। हर साल 16 मई का दिन राष्ट्रीय डेंगू दिवस के रूप में मनाया जाता है। हर साल इस बीमारी से विश्व भर में लगभग 40 करोड़ लोग मरते हैं और इस बीमारी की वेक्सीन भी अब तक नहीं बनी है जिसके चलते इसे कोरोना से कम नहीं कहा जा सकता। इस दिन को मनाने के पीछे का मकसद लोगों को इस घातक बीमारी के प्रति जागरुक करना है। हर साल स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से डेंगू दिवस मनाया जाता है। पहले के मुकाबले लोगों में डेंगू की बीमारी को लेकर काफी जागरूकता बढ़ी है बावजूद इसके अब भी देश के अंदरूनी इलाकों में इस बीमारी के प्रति और जागरूकता फैलाने की जरुरत है।
एडीज मच्छर के काटने से डेंगू की बीमारी होती है। 16 मई को हर साल जहां स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा डेंगू दिवस के रूप में मनाया जाता है। वहीं पुरे विश्व में भी इस दिन को डेंगू दिवस के रूप  मान्यता देते हुए लोगों को डेंगू बीमारी को लेकर जागरूकता पैदा करना होता है। भारत में डेंगू का एक समय आता है, जब इस बीमारी का खतरा रहता है। यह बीमारी मॉनसून के समय आती है और इसी समय सबसे ज्यादा लोग इस बीमारी से पीड़ित होते हैं। मॉनसून के साथ डेंगू के मच्छरों के पनपने का मौसम भी शुरू होता है। सरकार इस बीमारी को लेकर अब तक काफी जागरूकता फैला चुकी है। डेंगू का मच्छर आम मच्छर से अलग होता है । डेंगू के मच्छर का नाम मजा एडीज बताया गया है। इस मच्छर के काटने से डेंगू की बीमारी होती है। यह आम मच्छरों से अलग होता है।
बता दें, यह मच्छर अधिकतर रोशनी में काटते हैं। कई रिपोर्ट्स में यह भी बताया गया है की यह मच्छर सुबह के वक्त काटते हैं। सुबह और दिन के वक्त या जब रोशनी हो तो इसका अधिक ध्यान रखने की जरूरत होती है। माजा एडीज ज्यादा ऊंचाई तक उड़ने में सक्षम नहीं होता और यही कारण है की यह अधिकतर घुटनो के नीचे काटता है। यह एक भ्रम है की डेंगू के मच्छर सिर्फ साफ पानी में पनपते हैं। साफ-सुथरे इलाकों में और साफ-सुथरे पानी में यह मच्छर पनपते हैं तो सभी को इसका ध्यान रखने की जरूरत है।  निरीक्षक ने कहा कि डेंगू से बचाव केवल जागरूकता एवम सावधानी से संभव है इसके लिए साफ या गन्दा किसी भी तरह के पानी को किसी बर्तन में जमा ना होने दें। कूलर के पानी को भी रोजाना बदलें और हो सके तो उसमें थोड़ा सा मिटटी का तेल डालते रहें।
छत पर रखी पानी की टंकी को ढक्कन से ढक कर रखें। खिड़कियों को जाली या शीशे से बंद कर के रखें और दरवाजे भी बंद कर के रखें ताकि मच्छर घर में न आ सकें। मच्छरों से बचने के लिए मच्छरदानी या स्प्रे आदि का प्रयोग करें। खासकर सुबह और शाम के समय फुल कपड़े पहने, और एक्वेरियम, फूलदान आदि में हर हफ्ते पानी जरूर बदलें। डेंगू जैसी भयानक बिमारी से भी कोरोना जैसी वैश्वीक जानलेवा बीमारी की तरह ही जागरूकता और सावधानी तथा एक दूसरे के सहयोग से हराया जा सकता है। प्रशासनिक तौर पर विभागीय सर्वे,हेल्थ टाक्स, स्प्रे, फॉगिंग, पानी के गढ़ों, तालाबों, नालों में समय समय पर मिट्टी तेल डालने जैसे कार्य सुचारू रूप से किए जाते हैं।लेकिन यदि सामाजिक संगठन, स्वास्थ्य समिति,ट्रस्ट व सामाजिक कार्यकर्ता,आमजन भी यदि इसमें सहयोग करें तो वो दिन दूर नही जब भारत से डेंगू जैसी बिमारी का खात्मा अवश्य हो सकता है।
हरियाणा – स्टेट ब्यूरो,(सचिन बराड़) |

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]