Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

नगर परिषद चुनाव में किसके सिर पर सजेगा ताज

पंचकूला,15 मई 2022 (यू.टी.एन.)। नगर परिषद चुनाव की तारीख निश्चित न हो पाने पर  पिछले कुछ समय से  लगातार शहरवासियों के बीच कौताहूल का विषय बना हुआ है ।चुनाव न होने से लोगो को प्रशासनिक कार्यों में तो परेशानी हो ही रही है  साथ साथ कालका  शहर की हालत बदहाल है ,सुविधाओं के नाम पर शहर में लगातार अनियमिता बनी हुई है जिससे स्थानीय लोगो मे असंतोष की भावना पनप रही है।इसके साथ साथ सवाल ये उठता है कि अगर चुनाव होता है तो चुनाव में जीत का सेहरा बंधे आखिर किस के सिर पर ।जहां इस प्रकार के स्थानीय चुनाव का नतीजा पार्टियों के पेठ वोट बैंक के साथ साथ व्यक्ति विशेष की अपनी छवि पर निर्भर करता है ।लेकिन कालका नगर परिषद के समीकरण पर जनता खुद असमंजस में है कि आखिर किस  पार्टी को वोट दे और उस पार्टी से आखिर उम्मीदवार कौन होंगे ।
राजनीतिक पार्टियां या नेता चाहे जो मर्जी दुहाई दे लेकिन प्रदेश में जातीय समीकरण का चुनाव में काफी असर रहा है जिसको दरकिनार करना नामुमकिन है। जहां चुनावीय दंगल अक्सर पार्टियों के बीच होता है  वहीं अगर कालका नगर परिषद के चुनाव की बात करें तो यहां सभी पार्टीयो में दावेदारो की भरमार है जो शहर के वोटरों के बीच चिंता का विषय बना हुआ है।हल्के में शुरू से कोंग्रेस का अपना पुराना एक पेठ वोट बैंक है जिसके कारण विधानसभा सीट पर कोंग्रेस का कब्जा है। जहां बात अगर कांग्रेस पार्टी की की जाए तो कोंग्रेस पार्टी में चैयरमैन पद की महत्वकांशा लिए कोंग्रेस नेता विजय बंसल  और नवदीप शर्मा के साथ साथ अन्य कई उम्मीदवार इस रेस में है लेकिन यहां भी पार्टी की गुटबाजी प्रदेश स्तर की तर्ज पर दिखाई दे रही है।पिछले कुछ समय से अक्सर एक दूसरे के कार्यक्रमो से दूर दिखाई देते नजर आए हैं स्थानीय नेता।जहाँ कोई  उम्मीदवार स्थानीय विधायक और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष के नजदीकी माने जाते है तो दूसरी और एक उम्मीदवार रणदीप सुरजेवाला के नजदीकी माने जाते है तो वही  एक उम्मीदवार दीपेंदर सिंह हुड्डा के खास माने जाते है ।अब यहां सवाल ये उठता है कि पार्टी किसको मौका देगी।
मौका तो किसी एक को ही मिलना है अब सवाल ये उठता है  उस स्तिथि में रेस में दौड़ने वाले अन्य नेताओं की क्या रणनीति होगी।गुटबाजी खत्म कर  एकजुट होंगे। निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे या अंदर खाते वोट बैंक में सेंधमारी कर एक दूसरे को हराने का काम करेंगे ।अगर हालात ऐसे हुवे तो कोंग्रेस आलाकमान अपनी साख बचाने के लिए क्या एक्शन लेती है।अगर समय रहते पार्टी के नेतृत्व ने इस और मंथन नही किया तो परिणाम विपरीत आने स्वभाविक है क्योंकि पिछले कुछ समय से कांग्रेस की गुटबाजी का खामियाजा हरियाणा ही नही देश की राजनीति मे साफ तौर पर दिखाई दिया है।वही दूसरी और बात करें मौजूदा सत्ताधारी पार्टियों की तो नगर परिषद चुनाव  के नाम पर पिछले कुछ माह से दोनों पार्टियों के सुर अलग अलग सुनाई दे रहे हैं।दोनों पार्टियां अपनी अपनी दावेदारी ठोक रही है।
जहां सताधारी बड़ी पार्टी  भाजपा से तरसेम गुप्ता ,कृष्ण लाल लाम्बा  यहां के पूर्व विधायक के नजदीकी माने जाते हैं तो वही दूसरी और हल्के के वरिष्ठ समाजसेवी संत राम शर्मा पर भी लोगों की नजर है जो विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ,पूर्व शिक्षा मंत्री रामविलास शर्मा व मुख्यमंत्री के नजदीकी माने जाते है जो पिछले कुछ समय से समाजसेवा और राजनीति से सुर्खियों का हिस्सा बने हुवे है वही दूसरी और जजपा से ग्रामीण अध्यक्ष की हल्के में अपनी एक पकड़ है जो उप मुख्यमंत्री के खासम खास है व्हल्के में गुर्जर समाज की वोट बैंक निर्णायक भूमिका में रहा है जो खुद इस जाति से सम्बंध रखते है।और जजपा के नेताओ द्वारा कालका परिषद पर अपना हक जताने के लिए शक्ति प्रदर्शन व खुलेआम दावे किए जाते रहे है। वही जहां इनेलो ने अपने उम्मीदवार पर अपना मत सुरु से ही स्पस्ट रखा है।
और बात करें पिछले कुछ समय से एक लहर की तरह उभरकर सामने आई पार्टी आम आदमी की तो कहीं न कहीं दूसरी पार्टी से आये नेताओ की यहां भी भरमार से खास बनती दिखाई दे रही है।जहां आप  पार्टी कालका में चैयरमेन पद पर अनेकों चेहरे जनता के बीच रहकर पार्टी आलाकमान को लगातार अपना शक्तिप्रदर्शन कर रहे है चाहे पार्टी के परवीन हूडा हो या राहुल भारतीय गुप्ता व कुछ समय पहले ही पार्टी में शामिल हुवे पूर्व चैयरमेन राजेश कोना,बलवान ठाकुर ,रंजीत उप्पल भी लगातार पार्टी सदस्यता अभियान चलाकर व लगातार जनसमूह की भीड़ का संदेश दे आलाकमान को अपनी अहमियत  और दावेदारी के संकेत दे रहे हैं। अब देखना ये होगा कि आखिर जनता किस पर भरोसा जताती है |
हरियाणा – स्टेट ब्यूरो,(सचिन बराड़) |

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]