Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

निरीक्षण एवं विधिक साक्षरता शिविर राजकीय महिला शरणालय, मथुरा

मथुरा, 27अप्रैल 2022 (यू.टी.एन.)। उ०प्र० राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ तथा माननीय जनपद न्यायाधीश / अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मथुरा राजीव भारती जी के निर्देशानुसार आज दिनांक 25.04.2022 को मध्यान्ह 12:00 बजे सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मथुरा सुश्री सोनिका वर्मा द्वारा राजकीय महिला शरणालय, मथुरा का निरीक्षण एवं विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान राजकीय महिला शरणालय, मथुरा की अधीक्षिका श्रीमती रितु शरण श्रीवास्तव उपस्थित रहीं। राजकीय महिला शरणालय, मथुरा की अधीक्षिका द्वारा बताया गया कि आज दिनांक 25.04.2022 को राजकीय महिला शरणालय, मथुरा में कुल 15 संवासिनियां निवासरत है।
एक संवासिनी के साथ उसका एक बच्चा भी निवासरत है। निरीक्षण दौरान 13 संवासिनियाँ उपस्थित थीं तथा 02 संवासिनियों का तारीख पर न्यायालय जाना बताया गया। दिनांक 23.04.2022 को सभी सवासिनियों की कोरोना जाँच कराई गई थी। वर्तमान में कोई संवासिनी कोरोना पॉजिटिव नहीं है। मुख्य चिकित्साधिकारी के माध्यम से उपस्थित चिकित्सकों द्वारा दिनांक 24.04.2022 को सवासिनियों का चिकित्सीय परीक्षण किया गया। दिनांक 24.04.2022 को इस संस्था में डेंगू, मलेरिया की दवा का छिड़काव कराया गया था। संवासिनियों की सुरक्षा हेतु निरीक्षण दौरान 02 महिला कास्टेवल उपस्थित मिली।
निरीक्षण दौरान अधीक्षिका द्वारा बताया गया कि आज प्रातः संवासिनियों को नाश्ते में आलू पराठा, चटनी व चाय दी गई थी। दोपहर के भोजन में अरहर की दाल, चावल, रोटी व सलाद तथा शाम के नाश्ते में गुड़, चना व चाय तथा रात्रि के भोजन में काशीफल आलू की सब्जी, रोटी की व्यवस्था की गई है। संस्था के बरामदा व कमरों में टाइल्स लगाने का कार्य चल रहा था। सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मथुरा सुश्री सोनिका वर्मा द्वारा कोरोना को दृष्टिगत रखते हुए संस्था में निरुद्ध सवासिनियों की सुरक्षा हेतु बताया गया कि इस महामारी के दौर में माननीय उच्च न्यायालय तथा केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करना हम सभी का कर्तव्य है।
संवासिनियों के हित के लिए मास्क व सैनेटाइजर का उपयोग व सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना तथा सभी का समय-समय पर हाथ धोते रहना अतिआवश्यक है। कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए यदि किसी संवासिनी में कोरोना के लक्षण पाये जाते हैं तो ऐसी संवासिनी को अन्य सवासिनियों से अलग कक्ष में मास्क के प्रयोग के साथ उचित दूरी पर रखा जाए तथा उसके स्वास्थ्य व चिकित्सक के परामर्श के अनुरूप भोजन व दवा इत्यादि की व्यवस्था रहे। संस्था की साफ-सफाई उचित प्रकार से नियमित की जाये।उपस्थित संवासिनियों को उनके विधिक अधिकारों से अवगत कराते हुए उनकी समस्याओं को सुना गया व उनके निस्तारण हेतु अधीक्षिका को आवश्यक दिशानिर्देश दिये गये।
मथुरा- रिपोटर,( पीयूष पुरोहित ) |

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]